Soyabeen Bhav : आज का सोयाबीन का भाव 2023 – मंडी में आज सोयाबीन का भाव Today Soybean Mandi Rate

0 Comments

Spread the love

Soyabeen Bhav : भारत में उत्पादन होने वाले तेल एवं मसालों की मांग विदेशों में बहुत अधिक है जैसे कि भारत में उत्पादन होने वाले सोयाबीन का तेल, बादाम का तेल, तिल का तेल इत्यादि इन सब की मांग अंतरराष्ट्रीय बाजार में काफी देखने को मिलती है।

इसीलिए तेल का मूल्य अंतरराष्ट्रीय मार्केट के हिसाब से ऊपर नीचे होते रहता है। भारत में सोयाबीन का उत्पादन भारी मात्रा में किया जा रहा है।

कुछ वर्ष पूर्व से भारत में उच्च तकनीक की खेती की जा रही है जिससे उत्पादन क्षमता में काफी बढ़ोतरी हुई है।

इस बार मंडियों में सोयाबीन की फसल आना शुरू हो चुकी है। सोयाबीन की उन्नत किस्म के बीज को विकसित किया गया है जिससे उत्पादन भारी मात्रा में किया जा रहा है।

सोयाबीन के खेती के लिए दोमट मिट्टी सबसे सही होती है। इसके साथ ही साथ शुष्क गर्म जलवायु सोयाबीन के फसल के लिए काफी उपयुक्त मानी जाती है।

पिछले वर्ष की अपेक्षा इस वर्ष सोयाबीन की पैदावार काफी अच्छी हुई है जिससे मंडियों में सोयाबीन की फसल पहुंच रही है।

Read more : Gold price Today सोना खरीदारी को मचा हंगामा, ताजा कीमत पर आया चौंकाने वाला अपडेट

सोयाबीन का बाजार काफी बड़ा है क्योंकि सोयाबीन से तेल निकालने के बाद उसके बचे हुए भूसे से भी काफी उत्पाद तैयार किया जाते हैं।

आज हम अपने आर्टिकल के माध्यम से सभी किसान भाइयों को बताएंगे कि सोयाबीन का मूल्य अभी भारत के कुछ मंडियों में क्या चल रहा है।

इसके साथ साथ हम जानेंगे सोयाबीन से जुड़े कुछ रोचक तथ्य और सोयाबीन मानव शरीर के लिए किस प्रकार से लाभदायक है तो चलिए जानते हैं।

न्यूनतम समर्थन मूल्य

सोयाबीन का मूल्य अभी कुछ मंडी में 6 हजार रुपए प्रति क्विंटल से शुरू होकर के 9000 रुपए प्रति क्विंटल पर उपलब्ध है।

इसके अलावा कुछ और मंडी में अभी अधिकतम मूल्य 8000 रुपए प्रति क्विंटल पर उपलब्ध है भारत सरकार जो किसानों के लिए फसल पर न्यूनतम समर्थन मूल्य लागू करती है,

उन्होंने सोयाबीन पर भी न्यूनतम समर्थन मूल्य लागू कर दिया है। ताकि किसानों को अपना माल बेचने में परेशानी ना हो इसके साथ ही साथ उन्हें नुकसान भी ना हो।

न्यूनतम समर्थन मूल्य लागू करने से किसान एक निश्चित कीमत पर अपनी फसल बेच सकते हैं।

जिससे उन किसानों को काफी लाभ पहुंच जाता है जिनकी फसल में अच्छी गुणवत्ता नहीं है, क्योंकि अच्छी गुणवत्ता वाले फसल को अच्छे दाम मिल जाते हैं।

Read more : Ration Card Latest News : राशन कार्ड धारकों को मिली बहुत बड़ी खुशखबरी अब 31 मार्च से राशन कार्ड पर नया नियम होगा लागू।

अगर न्यूनतम समर्थन मूल्य से ज्यादा मूल्य सोयाबीन के फसल का किसानों को मिल रहे हैं तो वह आसानी से उन व्यापारियों को अपना माल बेच सकते हैं।

लेकिन न्यूनतम समर्थन मूल्य से कम में कोई भी माल नहीं बेचा जाए ऐसी सरकार की नीति होती है।

फिलहाल सोयाबीन के लिए 3950 रुपए प्रति क्विंटल न्यूनतम समर्थन मूल्य जारी किया गया है।

मंडी में मूल्य

अभी सोयाबीन का भाव अमरावती मंडी में 4895 रुपए प्रति क्विंटल से शुरू होकर के 7050 रुपए प्रति क्विंटल पर उपलब्ध है।

जबकि जावरा मंडी में 3540 रुपए प्रति क्विंटल से शुरू होकर के 7090 रुपए प्रति क्विंटल पर सोयाबीन उपलब्ध है।

Read more: Kisan Credit Card Loan Yojana : इस योजना से सभी किसान लें बिना ब्याज 3 लाख रुपये तक का लोन

वही रतलाम की मंडियों में अभी से सोयाबीन का न्यूनतम भाव 5180 रुपए प्रति क्विंटल से शुरू होकर के 7730 रुपए प्रति क्विंटल पर उपलब्ध है। सोयाबीन के तेल का भाव भी अभी कुछ ही महीनों में काफी ऊपर पहुंच गया है।

अभी कुछ महीने पहले सोयाबीन के तेल का भाव 135 से 155 रुपए प्रति लीटर पर था वही पर अब दाम बढ़कर के 170 रुपए प्रति लीटर पर पहुंच गया है।

सोयाबीन से बनने वाले सभी उत्पाद लगभग महंगे हो रहे हैं इसीलिए किसानों को इस बार लग रहा है कि मंडी में उन्हें सोयाबीन के अच्छे भाव मिल जाएंगे।

कुछ किसानों द्वारा अपनी फसल को स्टॉक करके रखा गया है ताकि जब दाम बढ़ेंगे तब वे अपना फसल मंडी में लेकर आ जाएंगे और इस बार अच्छी गुणवत्ता के फसल के किसानों को अच्छे दाम मिलेगा।

सोयाबीन का मूल्य मंडियों में 

कृषि उपज मंडिया न्यूनतम भाव अधिकतमभाव
उज्जैन मंडी 4195 7690
रतलाम मंडी 5180 7730
हरदा मंडी 4515 7790
विदिशा मंडी 4395 7700
अमरावती मंडी 4895 7050
महाराष्ट्र- जालना मंडी 4080 7300
बारा मंडी 5095 7630
करंजा मंडी-महाराष्ट्र 3665 7090
जावरा मंडी 3450 7650
इंदौर मंडी 5015 7700
बासवारा मंडी 5140 7580
मंदसौर मंडी 4085 7720
गुजरात राजकोट मंडी 4420 7380
उत्तर प्रदेश ललितपुर मंडी 4580 5900
कोटा मंडी 4855 7600
मांलगढ़-राजस्थान मंडी 5015 7630
बिहार बेगूसराय मंडी 4000 4290
टोंक मंडी 6025 7640
प्रतापगढ़ मंडी 7345 7660
किशनगंज मंडी 5170 6940

सोयाबीन में पोषक तत्व

सोयाबीन शाकाहारी लोगों के लिए एक पसंदीदा भोजन है। सोयाबीन के बीज से तेल निकालने के बाद बचे हुए भूसे से सोयाबीन बड़ी, टोफू, बिस्किट, कुकीज, हेल्थ ड्रिंक्स इसके साथ ही साथ और भी बहुत प्रकार के पैकेट फूड्स और ड्रिंक तैयार किए जाते हैं।

Read more : MP Irrigation Scheme : मध्य प्रदेश में सिंचाई योजनाओं को मंज़ूरी , जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट ने मुख्यमंत्री श्री चौहान का आभार जताया

इसके साथ ही साथ अब बाजार में सोयाबीन मिल्क भी आने लगा है सोयाबीन मिल्क में उतनी मात्रा में प्रोटीन होता है जितने की गाय के दूध में होता है।

अब लोग गाय के दूध के अलावा सोयाबीन मिल्क का भी इस्तेमाल अपने घरों में कर रहे हैं।

इसके अलावा सोयाबीन से बहुत सारे देशी एवं विदेशी व्यंजन आजकल बड़े-बड़े रेस्टोरेंट, क्लाउड किचन, रोड साइड के ठेले, रेडी, होटल एवं ढाबे में किया जा रहा है।

चाहे चाइनीस डिशेज हो या देसी सब में सोयाबीन का इस्तेमाल किया जाता है क्योंकि सोयाबीन एक सुपर फूड है।

सोयाबीन के बीज से तेल निकालने के लिए लगभग 100 केजी सोयाबीन के बीज को मशीन में पिरोने के बाद 35 किलो के करीब सोयाबीन तेल निकलता है।

सोयाबीन तेल का इस्तेमाल भी घर की रसोई से लेकर के बाहर सभी रेस्टोरेंट्स एवं ढाबा वगैरह में किया जाता है।

इन सब कारणों से भी सोयाबीन का मार्केट काफी बड़ा है और निर्यात करने की वजह से इसका बाजार अब अंतरराष्ट्रीय मार्केट भी बन चुका है।

Read more : Mandsaur Mandi Bhav : आज के कृषि उपज मंडी मंदसौर के भाव लहसुन व अन्य फसलों के ताजा भाव (दिनांक 28 March, 2023)

सोयाबीन का उत्पादन

भारत में सोयाबीन का उत्पादन बहुत से राज्य में किया जाता है जैसे कि मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, राजस्थान इसके अलावा पूरे विश्व में भी सोयाबीन का उत्पादन होता है

सोयाबीन में काफी मात्रा में पोषक तत्व पाए जाते हैं इसीलिए हर देश सोयाबीन का उत्पादन करता है जिसमें सबसे पहले नंबर पर अमेरिका आता है उसके बाद ब्राजील, अर्जेंटीना, फिर भारत।

सोयाबीन का नियमित रूप से सेवन करने से छोटे बच्चे, बड़े बुजुर्ग इन सभी को काफी फायदा है क्योंकि सोयाबीन की प्रोटीन और विटामिन हमारे शरीर के लिए काफी लाभदायक होते हैं।

सोयाबीन में पाए जाने वाला कैल्शियम हमारी हड्डियों के विकास के लिए काफी लाभदायक होता है।

सोयाबीन में आयरन भी पाया जाता है जो कि एनीमिया से लड़ने में सहायता प्रदान करता है हमारे बॉडी की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है।

इसके साथ ही साथ हमारे बाल, नाखून, आंख इन सभी को चुस्त-दुरुस्त रखता है और बहुत सी बीमारियां जैसे शुगर, कैंसर, कोलेस्ट्रॉल इन सभी से हमें मुक्त रखता है।

Read more : Moong Technical : मूंग की खेती व उसको उगाने की उसकी प्रक्रिया मूंग उत्पादन की उन्नत तकनीक देखिए पुरी जानकारी

निष्कर्ष

हमने अपने आर्टिकल के माध्यम से सभी किसान भाइयों को भारत की कुछ मंडियों में अभी सोयाबीन का भाव क्या चल रहा है इसके बारे में जानकारी दिया है ताकि वह अपना उत्पादन किया हुआ फसल सही मंडी में बेचकर के ज्यादा लाभ कमा सकें।

हम आपने आर्टिकल के माध्यम से हर एक अनाज का मंडी भाव बताते रहते हैं तो आप हमारे दूसरे आर्टिकल से भी लाभ ले सकते हैं।

हम आशा करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा। हमारे आर्टिकल में अंत तक बने रहने के लिए आपका धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts