संत श्री गाडगे बाबा ने समाज में प्रेम और भाईचारे का संदेश दिया – भड़ेरिया

Spread the love

गुना से अरविंद गौड़ की रिपोर्ट

जयंती के अवसर पर दी आंदोलन की चेतावनी कहा रजक बंदू तैयार रहे-भडेरिया

गुना। राष्ट्रीय संत श्री गाडगे बाबा महान संत थे। पूरे देश का भ्रमण कर उन्होंने समाज में आपसी प्रेम और भाईचारा बढ़ाने की शिक्षा दी। यही उनके जीवन का मूलमंत्र रहा। यह बात रजक महासमाज मध्य प्रदेश संगठन के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण भड़ेरिया ने गुरुवार को गोपीकृष्ण सागर डैम पर रजक महासमाज संगठन गुना द्वारा आयोजित संत श्री गाडगे महाराज की 147 वीं जयंती कार्यक्रम को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने कहाकि संत श्री गाडगे को याद करने के साथ ही उनके गुणों को जीवन में उतारने का प्रयास करें। कार्यक्रम का आयोजन रजक महासमाज गुना द्वारा किया गया। कार्यक्रम के आरंभ में संत गाडगे के चित्र के सामने दीप प्रज्वलित, पुष्प अर्पित कर उन्हें नमन किया। उन्होंने रजक समाज के लोगों से बाबा की मूर्ति स्थापना के लिए आगामी समय में किये जाने वाले आंदोलन के लिए तैयार रहने की अपील की है।
संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष राजेश रजक मातापुरा ने बताया कि गुना रजक महासमाज मध्य प्रदेश संगठन जिला इकाई के द्वारा आज राष्ट्रीय संत और रजक समाज के आराध्य देव संत श्री गाडगे बाबा की 147 वीं जयंती गोपी सागर डैम पर छोटे रूप में संगठन के कार्यकर्ताओं के बीच मनाई गई। इस अवसर पर बाबा की मूर्ति स्थापना को लेकर संबोधन में प्रदेश अध्यक्ष ने सभी रजक बंधुओं से आंदोलन के लिए तैयार रहने की अपील की है।
जयंती कार्यक्रम के दौरान प्रदेश अध्यक्ष ने अपने उद्बोधन में कहा कि राष्ट्रसंत श्री गाडगे बाबा सच्चे निष्काम कर्मयोगी थे। उनका बचपन का नाम डेबूजी झिंगराजी जानोरकर था। गाडगे बाबा का जन्म 23 फरवरी 1876 को महाराष्ट्र के अमरावती जिले के शेणगांव-अंजनगांव में हुआ था। उन्होंने महाराष्ट्र के कोने-कोने में अनेक धर्मशालाएं, गौशालाएं, विद्यालय, चिकित्सालय तथा छात्रावासों का निर्माण कराया। संत गाडगे द्वारा स्थापित ‘गाडगे महाराज मिशन’ आज भी समाज सेवा में रत है। मानवता के महान उपासक के 20 दिसंबर 1956 को ब्रह्मलीन होने पर प्रसिद्ध संत तुकडो जी महाराज ने श्रद्धांजलि अर्पित कर अपनी एक पुस्तक की भूमिका में उन्हें मानवता के मूर्तिमान आदर्श के रूप में निरूपित कर उनकी वंदना की । जयंती के अवसर पर गोपी सागर डैम पर संगठन के कार्यकर्ताओं के साथ ही महिला इकाई की महिलाएं और बच्चों ने बाबा के सामने श्रद्धा सुमन अर्पित किए। कार्यक्रम उपरांत बाबा के प्रसाद के रूप में भंडारे का आयोजन किया गया जिसमें सभी लोगों ने प्रसाद के रूप में भोजन का लुफ्त उठाया।
इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण भड़ेरिया, प्रदेश उपाध्यक्ष राजेश रजक मातापुरा, प्रदेश मंत्री राजकुमार रजक,संभाग अध्यक्ष राकेश नौनेरिया, संभाग मंत्री बंटी झाला, जिला अध्यक्ष दिनेश रजक पीओपी, उपाध्यक्ष मुकेश रजक, घनश्याम वास्ती, छोटेलाल रजक, नीरज रजक, राजू रजक, बंटी रजक कबाडी, शिवा रजक, रोहित भड़ेरिया, सहित संगठन के महिला, पुरूष बच्चे उपस्थित थे।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *