डॉ.लक्ष्मी नारायण पांडेय की जन्मजयंती के एक दिन पूर्व उनके नाम पर रतलाम मेडिकल कालेज का नामकरण

0 Comments

Spread the love

डॉ.लक्ष्मी नारायण पांडेय की जन्मजयंती के एक दिन पूर्व उनके नाम पर रतलाम मेडिकल कालेज का नामकरण

CM Madhya Pradesh श्री Shivraj Singh Chouhan ने की घोषणा

 

#ratlam 24 मार्च 2023/रतलाम मेडिकल कॉलेज अब डॉ.लक्ष्मी नारायण पांडे मेडिकल कॉलेज कहलाएगा। शुक्रवार को प्रदेश के नीमच में आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने घोषणा की। जावरा-मंदसौर-नीमच संसदीय क्षेत्र के आठ बार सांसद रहे पूर्व भाजपा अध्यक्ष स्व. डॉ.लक्ष्मीनारायण पांडेय के नाम पर रतलाम मेडिकल कॉलेज का नाम होगा।

 

मुख्यमंत्री श्री चौहान का उद्बोधन रतलाम में स्थानीय बड़बड़ विधायक सभागृह में आयोजित रोजगार दिवस कार्यक्रम में देखा सुना जा रहा था। इस अवसर पर डॉ. लक्ष्मी नारायण पांडे के सुपुत्र जावरा विधायक डॉ. राजेंद्र पांडे, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती लालाबाई शंभूलाल चंद्रवंशी, श्री राजेंद्र सिंह लूनेरा, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती जमुना भिड़े आदि उपस्थित थे।

 

डॉ राजेंद्र पांडे का स्वागत अभिनंदन किया गया

 

मुख्यमंत्री द्वारा की गई घोषणा के पश्चात रोजगार दिवस कार्यक्रम में हर्ष व्यक्त करते हुए जावरा विधायक डॉ. राजेंद्र पांडेय का स्वागत एवं अभिनंदन जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती लालाबाई शंभूलाल चंद्रवंशी, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री राजेन्द्र सिंह लुनेरा, कलेक्टर श्री नरेंद्र कुमार सूर्यवंशी, जिला पंचायत सीईओ श्रीमती जमुना भिड़े सहित गणमान्य व्यक्तियों द्वारा किया गया।

 

उल्लेखनीय है कि पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी, पूर्व उप प्रधानमंत्री श्री लालकृष्ण आडवाणी, पूर्व राष्ट्रपति श्री शंकरदयाल शर्मा, वरिष्ठ नेता श्री भैरो सिंह शेखावत, राजमाता विजयाराजे सिंधिया, श्री मुरलीमनोहर जोशी, पूर्व मुख्यमंत्री श्री वीरेंद्र कुमार सकलेचा, श्री सुंदरलाल पटवा, श्री कुशाभाऊ ठाकरे, श्री सुंदरसिंह भंडारी, श्री प्यारेलाल खंडेलवाल सहित विभिन्न राष्ट्रीय पदाधिकारियों के सर्वप्रिय साथी रहे पूर्व सांसद स्व. डॉ लक्ष्मीनारायण पांडेय ने लगातार एक ही सीट से 11 बार सांसद का चुनाव लड़ने का रिकार्ड बनाया तो तत्कालीन म.प्र. के मुख्यमंत्री श्री कैलाश नाथ काटजू को पराजित करने का रिकार्ड भी देश में प्रथम बनाया। संसद की रक्षा, विदेश, पेट्रोलियम, नागरिक उड्डयन सहित विभिन्न मंत्रालयों की स्थायी समितियों के सभापति के रूप दायित्व निभाते हुए डॉ. पांडेय ने 48 से अधिक देशों की यात्रा कर समितियों के माध्यम से देश का प्रतिनिधित्व किया। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के अलावा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के क्षेत्रीय कार्यवाहक, जनसंघ के प्रदेश महासचिव के रूप में भी दायित्व निभाया, लोकसभा में सचेतक, विधानसभा में सचेतक रहे डॉ. पांडेय ने कई बार लोकसभा में अध्यक्षता की। आधा दर्जन पुस्तको के लेखक व चिकित्सा क्षेत्र में ख्यात डॉ. पांडेय अखिल भारतीय औदिच्य महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व विभिन्न सामाजिक व धार्मिक संस्थाओं के वरिष्ठ पदाधिकारी रहे। सरल, सहज मालवा के गांधी के रूप में ख्यात डॉ पांडेय की जन्मजयंती के एक दिन पूर्व मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा की गई इस घोषणा पर विधायक डॉ पांडेय के अलावा विभिन्न गणमान्य व्यक्तियों ने हर्ष प्रकट कर मुख्यमंत्री श्री चौहान का आभार माना।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

मुख्यमंत्री  चौहान द्वारा स्व. श्री लक्ष्मीनारायण पाण्डेय की आदमकद प्रतिमा का अनावरण 30 सितम्बर को

0 Comments

रतलाम /रतलाम मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान आगामी 30 सितम्बर को जावरा में…