जिला परामर्शदात्री समिति की बैठक कलेक्‍टर श्री गुप्‍ता की अध्‍यक्षता में हुई आयोजित

0 minutes, 2 seconds Read
Spread the love

  देवास जिला परामर्शदात्री समिति की बैठक कलेक्‍टर श्री ऋषव गुप्‍ता की अध्‍यक्षता में कलेक्‍टर कार्यालय सभाकक्ष में आयोजित हुई। बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री हिमांशु प्रजापति, डिप्‍टी कलेक्‍टर सुश्री प्रिया चंद्रावत, एलडीएम श्री एहसान अहमद, सहायक महाप्रबंधक आरबीआई सुश्री नेहा सिंह सहित संबंधित विभागों के अधिकारी तथा बैंक अधिकारी उपस्थित थे।

 

कलेक्‍टर श्री गुप्‍ता ने बैठक में उद्योग, पशुपालन, उद्यानिकी, कृषि, अंत्यावसायी, अल्‍पसंख्‍यक एवं पिछडा वर्ग कल्‍याण विभाग, आदिम जाति विभाग द्वारा चलाई जा रही हितग्राही मूलक योजनाओं की समीक्षा की। कलेक्‍टर श्री गुप्‍ता ने बैंको को निर्देश दिये कि हितग्राही मूलक योजनाओं में ऋण स्‍वीकृत किया जाये। केसीसी और ऋण स्‍वीकृती के लिए दो दिन का विशेष अभियान चलाये। बैंक छोटे ऋण की प्रक्रिया सरल बनाये। कलेक्‍टर श्री गुप्‍ता ने कहा कि परम्‍परागत खेती के अलावा आधुनिक मशीनों द्रोण, पराली और अन्‍य मशीनों के लिए भी ऋण उपलब्‍ध कराये।

 

जिला परामर्शदात्री समिति की बैठक में पूर्व में आयोजित जिला परामर्शदात्री समिति की बैठक के कार्य विवरण की समीक्षा, जिला परामर्शदात्री समिति की बैठक से संबंधित की गई कार्यवाही की रिपोर्ट, बैंकिंग विकास की समीक्षा, जिले के प्रमुख बैंकिंग मापदंड, जिला ऋण योजना के तहत बैंकों के कार्यनिष्पादन की समीक्षा की गई।

 

जिला परामर्शदात्री समिति की बैठक में कलेक्‍टर श्री गुप्‍ता ने प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना (पीएमईजीपी), प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री पथ विक्रेता योजना, स्वरोजगार योजना, स्व सहायता समूह का लिंकेज, राष्‍ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, मुख्यमंत्री पथ विक्रेता योजना, मुख्य मंत्री उद्ययम क्रांति योजना, जिला उद्योग केंद्र क्रेडिट लिंके, एवं खाते खोलना, किसान की आय दुगनी करना, पशु डेयरी, किसान क्रेडिट कार्ड, प्रधान मंत्री जन धन योजना के खाते की स्थिति, सामाजिक सुरक्षा योजना,अटल पेंशन योजना आरएसईटीआई (RSETI) और वित्तीय साक्षारता केन्द्रों के अंतर्गत प्रगति, सीएम हेल्‍प लाइन और सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्यमों के तहत प्रगति की समीक्षा की गई।

 

बैठक में बताया गया कि आरसेटी द्वारा जिले में वर्ष 2023-24 में 27 प्रशिक्षण कार्यक्रमों में 810 प्रशिक्षणार्थियों के प्रशिक्षण का लक्ष्‍य निर्धारित किया गया है। जिसमें अब तक 14 प्रशिक्षण आयोजित कर 430 प्रशिक्षणार्थियों को प्रशिक्षित किया गया है।

 

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *