CM Shivraj Announcement for MP Farmers : सीएम शिवराज की बड़ी घोषणा, किसानों को मिलेगा लाभ, बढ़ाई जाएगी कर्ज वसूली की तारीख, इतनी मिलेगी सहायता राशि

0 minutes, 8 seconds Read
Spread the love

CM Shivraj Announcement for MP Farmers : सीएम शिवराज की बड़ी घोषणा, किसानों को मिलेगा लाभ, बढ़ाई जाएगी कर्ज वसूली की तारीख, इतनी मिलेगी सहायता राशि

मध्यप्रदेश राज्य में स्थित राष्ट्रीकृत तथा सहकारी बैंकों में अल्पकालीन फसल ऋण के रूप में शासन द्वारा पात्रतानुसार पात्र पाये गये किसानों के रूपये 2.00 लाख (रूपये दो लाख) की सीमा तक का दिनांक 31 मार्च 2018 की स्थिति में बकाया फसल ऋण माफ किये जाने संबंधी।

Read more : वर्षा एवं अतिवृष्टि से फसल नुकसान की भरपाई हेतु बीमित किसान आवेदन करें, टोलफ्री नंबर 18002337115 नुकसान की सूचना दें


मुख्यमंत्री ने किसानों से कहा कि एक हेक्टेयर फसल में 50 प्रतिशत से अधिक नुकसान पर अब 32 हजार , गाय भैंस को हानि पर साढ़े 37 हजार, भेड़ बकरी पर 4000, बिछिया पर 2000 तथा मुर्गा मुर्गी की हानि पर 100 रुपए प्रत्येक के मान से राहत राशि दी जाएगी। मकानों को क्षति पर भी सहायता दी जाएगी।

CM Shivraj Announcement for MP Farmers :

मध्य प्रदेश में मौसम में बारिश और ओलावृष्टि से किसानों की फसलों को बड़ा नुकसान लगा है। दरअसल उनकी फसलें पूरी तरह से बर्बाद हो चुकी है। राज्य शासन और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा सर्वे के निर्देश दिए गए थे। इसके साथ ही आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से ओलावृष्टि को लेकर चर्चा की थी। वही किसानों को आश्वासन दिया गया है कि बीजेपी सरकार बर्बाद हुई फसलों की भरपाई करेगी। इसी बीच सीएम शिवराज द्वारा किसानों के लिए बड़ी घोषणा की गई है।

Read more : MP Mandi Bhav : किसानो के लिए ख़ुशख़बरी गेहूँ की नई फसल आते ही भाव में आई चमक , देखे किसानो की खुशी की मुस्कुराहटे झूम उठे किसान

किसानों को प्रति हेक्टेयर अब 32 हजार रुपए की राहत राशि
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि ओलावृष्टि और असमय बारिश से फसलों के 50 प्रतिशत से अधिक के नुकसान पर किसानों को प्रति हेक्टेयर अब 32 हजार रुपए की राहत राशि दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि फसल बीमा की राशि अलग से दी जाएगी। उन्होंने उद्यानकी फसलों को भी सर्वे में शामिल करने के अधिकारियों को निर्देश दिए। सीएम शिवराज ने कहा कि किसान चिंता नही करें,परेशान न हो, चिंता के लिए मैं मुख्यमंत्री हूं और किसान, बहन और भाइयों को सभी तरह के संकट से बाहर निकाल कर ले जाऊंगा।

सीएम शिवराज ने मंगलवार को विदिशा जिले की गुलाबगंज तहसील के पटवारी खेड़ी, घुरदा मड़ी गांव में ओलावृष्टि से फसलों को हुए नुकसान का जायजा लेने के बाद किसानों को ढांढस बंधाते हुए संवाद कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसान चिंता नही करें, प्रत्येक प्रभावित खेत का सर्वे मानवीय दृष्टिकोण और उदारता से होगा। जिससे किसानों को भरपूर राहत दी जा सके।

प्रभावित जिलों में सर्वे का कार्य जारी

उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में प्रभावित जिलों में सर्वे का कार्य जारी है। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि कोई भी हीला हवाली नही करे और पारदर्शी तरीके से नुकसान का सर्वे करे। उन्होंने कहा कि सर्वे सूची पंचायत भवन पर प्रदर्शित की जायेगी और आपत्ति होने पर उसका भी निराकरण किया जायेगा।

Read more : फसल बीमा योजना : कृषि मंत्री का बड़ा बयान अगले 15 दिन में किसानो को बांटे जायेगे फसल बीमा के 530 करोड़, देखे पूरी जानकारी

 छती पर दी जाएगी सहायता राशि

CM ने किसानों से कहा कि एक हेक्टेयर फसल में 50 प्रतिशत से अधिक नुकसान पर अब 32 हजार , गाय भैंस को  हानि पर साढ़े 37 हजार, भेड़ बकरी पर 4000, बिछिया पर 2000 तथा मुर्गा मुर्गी की हानि पर 100 रुपए प्रत्येक के मान से राहत राशि दी जाएगी। मकानों को क्षति पर भी सहायता दी जाएगी।

कर्ज वसूली की तारीख बढ़ाई जायेगी

सीएम शिवराज ने कहा कि किसान बिलकुल भी चिंतित नहीं हो, पीड़ित किसानों की कर्ज वसुली की तारीख तो बढ़ाई जायेगी। ब्याज भी सरकार ही भरेगी और अगली फसल के लिए भी शून्य प्रतिशत ब्याज पर लोन दिलाया जायेगा।

मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना में 56 हजार की राशि

Read more : Rajasthan Crops Spoiled : 21 लाख किसानों पर कहर बन कर बरसी बिन मौसम की बारिश, खराब हुईं जीरा, अरंडी और गेहूं की फसलें

मुख्यमंत्री ने कहा कि समर्थन मूल्य पर खरीदी के लिए तारीख भी बढ़ाई जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसे परिवारों की बेटी की शादी भी मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना में 56 हजार की राशि देकर करवाई जायेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वे जानते है कि किसान पर क्या बीतती है, उनकी मेहनत ही नही, खाद, बीज, उर्वरक, दवाई सब के साथ जीवन भी संकट में आया है। मुख्यमंत्री ने कहा किसान बिलकुल चिंता नही करें। हम संकट से अपने किसानों को पार निकलकर ले जायेंगे। उन्होंने कहा कि राजस्व,कृषि और पंचायत विभाग को टीम सर्वे कर रही है और कलेक्टर कमिश्नर की यह जिम्मेदारी है कि वे समय पर कार्यवाही पूर्ण करें। जिससे किसानों को त्वरित राहत राशि दी जा सके।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *